भावुकता वश दिए गए बयानों के बाद शर्मिंदा हुए सफाई कर्मचारी, अपने ही बयानों को बताया झूठा, मांगी माफी

दिनेशपुर (रुद्रपुर)
देवभूमि उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संघ पिछले दिनों एक विवादित वीडियो के कारण काफी चर्चा में है इस वीडियो में संगठन से जुड़े दो सफाई कर्मचारी संगठन के ही पदाधिकारियों पर आरोप लगाते दिख रहे हैं
हुआ यूं कि पिछले दिनों दर्जा राज्यमंत्री अजय राजौर (उपाध्यक्ष सफाई कर्मचारी आयोग) अपने दौरे पर दिनेशपुर पहुंचे जहां सफाई कर्मियों ने अपना एक मांग पत्र मंत्री जी को सौंपना चाहा परंतु मंत्री जी ने पत्र स्वीकार ना करते हुए सफाई कर्मियों से मौखिक ही अपनी बात रखने को कहा जिस पर विशन और मुकेश नामक दो कर्मियों ने अपने ही पदाधिकारियों के खिलाफ कुछ ऐसा कह दिया जो काफी विवादास्पद था और उनके वक्तव्य से देवभूमि उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संघ की छवि भी धूमिल होने की संभावना थी।


हाला की मीटिंग स्थल में कैमरा या मोबाइल ले आना वर्जित था परंतु फिर भी किसी ने उनकी वीडियो बनाकर वायरल कर दी बस फिर क्या था संगठन से जुड़े पदाधिकारियों एवं अन्य सदस्यों में रोष की लहर छा गई
उक्त प्रकरण की जानकारी देने आज सुदर्शन टाइम्स की टीम दिनेशपुर पहुंची और संगठन से जुड़े सभी सदस्यों से वार्ता की तो आरोपों को पूर्णता भ्रामक पर सत्य पाया कैमरे के सामने अपने विवादास्पद बयानों से चर्चा में आए सफाई कर्मी विशन और मुकेश ने स्वयं बताया कि वह बयान उनके द्वारा भावुकता में मुंह से निकल गए थे उन्होंने यह भी कहा कि संगठन उनके हितों की लड़ाई हर क्षेत्र में जाकर लड़ रहा है तथा संगठन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री अजय बन्नू तन मन धन से सफाई कर्मियों के हितों के लिए काम कर रहे हैं अपने द्वारा दिए गए विवादास्पद बयानों के लिए दोनों ने क्षमा याचना भी प्रस्तुत की।


वही इस पूरे प्रकरण पर संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष अजय बनू का कहना है कि दर्जा राज्यमंत्री अजय राज और सफाई कर्मियों के बीच फूट डालना चाहते हैं और उनके हितों के लिए उन्होंने आज तक कोई कार्य नहीं किया अजय बन्नू ने आरोप लगाते हुए यह भी बताया कि अजय राजौर दरअसल अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अपने पिता के एक संगठन का प्रचार प्रसार करने में लगे हैं देवभूमि उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संघ के बढ़ते कदम कामयाबी और सफाई कर्मियों के हितों की लड़ाई में संगठन की भूमिका अग्रणी रही है जिसके चलते दर्जा राज्यमंत्री अजय राजौर के पिता का संगठन गुमनामी के अंधेरे में पहुंच गया है इसीलिए वह हमारे संगठन की छवि खराब करने की मंशा लेकर अपने ही कुछ लोगों से इस तरह की वीडियो वायरल करा रहे हैं अजय बन्नू ने अजय राजौर को अपने कर्तव्यों का पालन करने की नसीहत देते हुए कहा कि पूरे उत्तराखंड के सफाई कर्मचारियों की तकलीफों को समझते हुए उनके समाधान का प्रयास करना चाहिए इस कार्य में देवभूमि उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संघ हर कदम पर उनके सहयोग को तैयार है